Follow Us

Hindustancalling

Hindustan Calling

सारे जहाँ से अच्छा हिन्दोस्तां हमारा

पुर्नजन्म की सबसे रहस्यमयी और मान्य घटना !

पुर्नजन्म पर सदियों से एक अंतहीन बहस चली आ रही है। जहां कुछ लोंग पूर्नजन्म पर यकीन रखते है तो कुछ लोग इसे बेकार की बात कहकर सिरे से नकार देते है। विज्ञान भी इस पर यकीन नहीं रखता है। लेकिन हिंदू जैन और बौद्ध धर्म के लोग पुर्नजन्म पर यकीन रखते है। हिन्दू धर्म के अनुसार आत्मा एक शरीर का त्याग करके दूसरे शरीर में प्रवेश करती है इसे पुर्नजन्म कहते है। यह पुर्नजन्म की प्रक्रिया तब तक चलती है जब तक आत्मा को मोक्ष नहीं मिलती है। समय समय पर देश और दुनिया से पुर्नजन्म से जुडी घटनायें सुनने को मिलती रहती है। ऐसी ही एक घटना आजादी से पहले भी सामने आयी थी जब भारत पर अग्रेंजों का शासन था।

मथुरा में हुआ था जन्म
मथुरा के चतुरभुज में 18 जनवरी 1902 को एक बच्ची का जन्म हुआ। बच्ची का नाम लुगदी देवी रखा गया। लुगदी देवी जब 10 साल की हुयी तब उसका विवाह केदारनाथ चौबे से हुआ जिनकी कपडे की दुकान थी। केदारनाथ की यह दुसरी शादी थी उनकी पहली पत्नि का देहान्त हो चुका था। लुगदी बेहद धार्मिक प्रवृत्ति की लडकी थी। उन्होनें छोटी सी उम्र में ही कई धार्मिक स्थानों के दर्शन कर लिये थे। लुगदी देवी का पहला बच्चा मृत पैदा हुआ था। जब वे दुसरी बार मॉ बनी तो उनके पति केदारनाथ ने उन्हें आगरा के सरकारी अस्पताल में दाखिल करवाया। जहां पर उनके ऑपरेशन के जरिये 25 सितम्बर 1925 को एक लडके को जन्म दिया। लेकिन आपरेशन के बाद उनकी तबियत बिगडती गयी और 9 दिन बाद 4 अक्टुबर 1925 को उनका निधन हो गया।

दुसरा जन्म हुआ यहां
लुगदी देवी की मृत्यु के 1 साल 10 महीने और 7 दिन के बाद दिल्ली के 11 सितम्बर 1926 को दिल्ली के एक छोटे से मौहल्ले में रंग बहादुर माथुर के यहां एक बच्ची का जन्म हुआ जिसका नाम उन्होनें शांती देवी रखा। शांति अन्य बच्चों से थोडी अलग थी 4 साल की उम्र तक वह थोडी चुप चुप रहती थी। वह अपने मॉ बाप को बताती थी की मेरे पति और एक बेटा है। मेरे पति की एक कपडों की दुकान है। लेकिन उस समय मॉ बाप शांति की इन बातों को केवल कल्पना मानकर अनसुना कर देते थे। लेकिन वह उम्र बढने के बाद भी उन्हीं बातों को बोलने लगी। वह यह भी बताती की वो किस दुकान से मिठाई खाती थी और कैसे कपडे पहनती थी।


पुरा हुलिया बता देती थी
शांति अपने पति के बारे में भी काफी कुछ बताती थी वे ये भी बताती थी की उनका रंग गोरा है और उनके गाल पर मस्सा है और उनकी मथुरा के द्वारकाधीश में दुकान है। वे हमेशा अपने पति और बेटे के पास ले जाने की जिद करती थी। उनकी बातें सुनकर अब उनके माता पिता हैरान और परेशान रहने लगे थे। लेकिन अब शांति के माता पिता को भी यकीन होने लगा था कि शायद शांति पिछले जन्म की बातें जानती है। एक बार शांति के दूर के रिश्ते दार आये और उन्होनें उससे कहा कि अगर तुम अपने पति का नाम बता दोगी तो मैं तुम्हें वहां ले जाउॅगा तो शांति ने बता दिया कि उनका नाम केदारनाथ चौबे है।


उनके पति आये नसे मिलने
उनके रिश्तेदार बिशनसिंह एक अध्यापक थे उन्होनें एक पत्र मथुरा में केदारनाथ चौबे को शांति के बारे में सारी जानकारियों से अवगत कराया और दिल्ली आकर मिलने के लिये कहा। 12 नवंबर 1935 को केदारनाथ लुगदी के बेटे और अपनी पत्नि के साथ दिल्ली आ गये। शांति देवी ने उन्हें देखते ही पहचान लिया। केदारनाथ ने शांति से पुछा कि कुछ ऐसा बताइये कि जिससे हमें यकिन हो जाये की आप ही लुगदी हो। तो शांति ने बताया की उनके घर के सामने एक कुॅआ हुआ करता था जिसपर वे नहाती थी। उन्होनें केदारनाथ से यह भी कहा कि उनके पास एक घडा है जिसमें उन्होनें कुछ पैसे छुपाकर रखे हुये है। साथ ही उन्होनें केदारनाथ से यह भी कहा कि तुमने तीसरी शादी क्यों की तुमने तो वादा किया था कि तुम तीसरी शादी नहीं करोगे। इतना सुनकर केदारनाथ निरूत्तर हो गये और उनका पक्का विश्वास हो गया कि शांति ही लुगदी है।

जब वे मथुरा पहॅुची
इस घटना की खबर चारों तरफ फैल चुकी थी यहां तक की महात्मा गांधी तक भी यह बात पहॅुची तो उन्होनें शांति देवी से बात की इसके अलावा 15 लोगों की एक समिति का गठन किया जो पता लगाये कि इसमें कितनी सच्चाई है। कमेटी के सदस्य शांति देवी को लेकर मथुरा पहॅुचे। मथुरा उतरते ही शांति भीड की तरफ दौडते हुये गयीऔर एक बुजुर्ग व्यक्ति के पैर छुए। कमेटी के लोग चकित थे कि शांति देवी ने अपने पिछले जन्म के जेठ को पहचान लिया था जो कि केदारनाथ के बडे भाई राम चौबे थे। तांगे से जब वे गये तो तांगे वाले को रास्ता भी शांति देवी ने सही सही बता दिया।

दुनिया की सबसे मान्य पुर्नजन्म की घटना
शांति देवी तांगे से उतरकर समिति के सदस्यों को घर तक ले गयी फिर वे उस कमरे में गयी जिसमें वे सोती थी। उस कमरे में उन्होनें वह छुपा हुआ घडा निकाला जिसमें उन्होनें पैसे छुपा के रखे थे। कमेटी ने अपनी रिपोर्ट में लिखा कि शांति देवी ही पिछले जन्म में लुगदी देवी थी। शांति देवी ने कभी शादी नहीं की उनकी मृत्यु 27 दिसम्बर 1987 को हुयी। इसे दुनिया की पुर्नजन्म की सबसे मान्य घटना माना जाता है।

 

ये भी जरूर पढ़ें :

ये योगी महात्मा 500 साल से भी अधिक जीवित रहे, चमत्कारों से दुनिया रह गयी दंग

इस महिला से मिल चुके हैं यमराज, बोले-जा तू कुछ दिन और जी ले !

मरने के 5 घंटे बाद हुआ यह व्यक्ति जिंदा, गलती से ले गये थे यमदूत

चमत्कार मौत के दो महीने बाद क्यों मुस्कराने लगा यह संत !

Related Article

Tags: , ,
  • Most Viewed Posts

  • एस्ट्रोलॉजी [ और पढ़ें ]

    गणेश जी को बतानी है मन की बात तो चिट्ठी इसे पते पर भेजो !

    गणेश जी को बतानी है मन की बात तो चिट्ठी इसे पते पर भेजो !

    April 27, 2018 2:16 am
    अगर आपकी भी है ये राशि, तो हो जाए सावधान

    अगर आपकी भी है ये राशि, तो हो जाए सावधान

    अगर आपकी भी है ये राशि, तो हो जाए सावधान

    June 7, 2017 1:37 pm

    खेल [ और पढ़ें ]

    ये है वे 5 गेंदबाज जिन्होनें अपने कैरियर में कभी भी नो बॉल नहीं फेंकी !

    ये है वे 5 गेंदबाज जिन्होनें अपने कैरियर में कभी भी नो बॉल नहीं फेंकी !

    May 9, 2018 3:41 pm

    वो 6 बातें जो भारत को बनाती है चैम्पियंस ट्रॉफी 2017 का विजेता

    वो 6 बातें जो भारत को बनाती है चैम्पियंस ट्रॉफी 2017 का विजेता

    June 16, 2017 9:39 pm

    टेक्नोलॉजी [ और पढ़ें ]

    सामने आये जियो के 500 रुपये वाले फोन की तस्वीर और फीचर्सं

    सामने आये जियो के 500 रुपये वाले फोन की तस्वीर और फीचर्सं

    July 16, 2017 10:36 pm

    यह एप बचाएगा आपके मोबाइल को चोरों से !

    यह एप बचाएगा आपके मोबाइल को चोरों से !

    March 10, 2018 5:05 pm

    ट्रेंडिंग [ और पढ़ें ]

    2018 का पहला सूर्यग्रहण जानें क्या करें क्या ना करें !

    2018 का पहला सूर्यग्रहण जानें क्या करें क्या ना करें !

    February 14, 2018 5:07 pm

    अशीन विराथु- जिनके नाम से ही भाग खडे होते है बर्मा के रोहिंग्या मुस्लिम

    अशीन विराथु- जिनके नाम से ही भाग खडे होते है बर्मा के रोहिंग्या मुस्लिम

    September 8, 2017 2:34 pm

    देश - दुनिया [ और पढ़ें ]

    IPL में बिके गरीब देश के इस क्रिकेटर को कभी भागना पड़ा देश छोड़कर !

    IPL में बिके गरीब देश के इस क्रिकेटर को कभी भागना पड़ा देश छोड़कर !

    March 1, 2018 3:27 pm

    भारतीय गणितज्ञ डॉ वशिष्ट नारायण जिन्होंने दी आइंस्टीन के सिद्धांत को चुनौती

    भारतीय गणितज्ञ डॉ वशिष्ट नारायण जिन्होंने दी आइंस्टीन के सिद्धांत को चुनौती

    June 23, 2017 6:55 pm

    रोचक खबर [ और पढ़ें ]

    यहाँ है भारत का सबसे सस्ता मोबाइल मार्केट !

    यहाँ है भारत का सबसे सस्ता मोबाइल मार्केट !

    February 1, 2018 7:10 pm

    दुनिया की इन मंहगी डिशेज की कीमत सूनकर आपकी भूख मर जायेगी !

    दुनिया की इन मंहगी डिशेज की कीमत सूनकर आपकी भूख मर जायेगी !

    April 16, 2018 7:59 pm

    व्यक्ति विशेष [ और पढ़ें ]

    इस राष्ट्रपति के सर पर था लाखों लोगों की मौत का इलजाम

    इस राष्ट्रपति के सर पर था लाखों लोगों की मौत का इलजाम

    July 23, 2017 8:11 pm

    एक हादसे ने बना दिया इस शक्स को मेडिसिन बाबा !

    एक हादसे ने बना दिया इस शक्स को मेडिसिन बाबा !

    March 29, 2018 12:10 pm

    सिनेमा [ और पढ़ें ]

    तलाक के 4 साल बाद ये बनेगी ऋतिक की नयी दुल्हन ?

    तलाक के 4 साल बाद ये बनेगी ऋतिक की नयी दुल्हन ?

    January 19, 2018 2:34 pm

    डॉक्टर से मुक्केबाज बनने की कहानी -विनित कुमार

    डॉक्टर से मुक्केबाज बनने की कहानी -विनित कुमार

    January 18, 2018 10:33 pm

    सियासत [ और पढ़ें ]

    इस मामले में भी बीजेपी बनी नंबर वन पार्टी, ये रिपोर्ट आपके होश उड़ा देगी

    इस मामले में भी बीजेपी बनी नंबर वन पार्टी, ये रिपोर्ट आपके होश उड़ा देगी

    August 18, 2017 4:23 pm

    प्रकाश राज क्यों हो रहे है मोदी और शाह विरोधी ?

    प्रकाश राज क्यों हो रहे है मोदी और शाह विरोधी ?

    January 19, 2018 3:39 pm

    हेल्थ [ और पढ़ें ]

    अगली बार बीयर पीने से पहले पहले ये खबर जरुर पड़े !

    अगली बार बीयर पीने से पहले पहले ये खबर जरुर पड़े !

    April 3, 2018 4:46 pm

    ये 9 फूड है धीमें जहर की तरह, इन्हें खानें से करें परहेज !

    ये 9 फूड है धीमें जहर की तरह, इन्हें खानें से करें परहेज !

    April 10, 2018 1:53 pm